करोड़ो रुपय होने के बावजुद,चूल्हे पर बनता है खाना

खबरें अभी तक। मुंबई: हमारी बॉलीवुड इंडस्ट्री में एेसे कई एक्टर्स हैं जिन्होंने काफी मेहनत और लग्न से इंडस्ट्री में एक खास मुकाम हासिल किया। अपने किरदारों से उन्होंने लोगो के दिल और दिमाग पर एक अमिट छाप छोड़ी है। वही कुछ एेसे दिग्गज एक्टर्स ऐसे भी है, जो इस बॉलीवुड इंडस्ट्री में छोटी सी जगह से आए हैं।

आज हम आपको बॉलीवुड के एक ऐसे ही दिग्गज अभिनेता से रूबरू करवाने जा रहे है। जो वैसे तो फिल्मो से करोड़ो रूपये कमाते है, लेकिन उनके घर में आज भी लकड़ी का चूल्हा ही जलता है। ये कोई और नहीं बल्कि पंकज हैं। जिन्होंने फुकरे, मसान, रन, ओमकारा, गुंडे, मंजिल और गैंग ऑफ वासेपुर जैसी कई सुपरहिट फिल्मो में काम किया है।

आपको जान कर ताज्जुब होगा कि पंकज आज भले ही एक बॉलीवुड सेलिब्रिटी बन चुके है, लेकिन उनका रहन सहन आज भी एक देसी व्यक्ति जैसा ही है। बताया जाता है कि उनके घर में आज भी लकड़ी के चूल्हे पर ही खाना बनाया जाता है। गौरतलब है कि इनकी एक फिल्म “निल बटे सन्नाटा” ने तो दर्शको का दिल ही मोह लिया था। पंकज त्रिपाठी बिहार के गोपाल गंज के बेलसंड के रहने वाले है। इसके इलावा उनके गांव में फ़िलहाल उनके माता पिता और रिश्तेदार ही रहते है।

बता दें कि पंकज मुख्य रूप से एक किसान के परिवार से संबंध रखते है। उनके पिता का नाम बनारस त्रिपाठी और माता का नाम हेमंत देवी है। पंकज ने गैंग ऑफ वासेपुर में इतना बखूबी काम किया था। आज वो किसी पहचान के मोहताज नहीं है। हालांकि आज भी उनके गांव में कोई पक्की सड़क नहीं है। यहाँ तक कि पंकज खुद बॉलीवुड की दुनिया में काम करते है, लेकिन उनके गांव में बीस किलोमीटर की दूरी पर केवल एक ही सिनेमा हाल है।

Add your comment

Your email address will not be published.